The Real Khabar

दिखाएं हम,सिर्फ सच्ची ख़बरें

दिवगंत पत्रकार बैजनाथ महतो के निधन पर आज प्रेस क्लब परिसर में शोक सभा का आयोजन किया गया

दिवगंत पत्रकार बैजनाथ महतो के निधन पर आज प्रेस क्लब परिसर में शोक सभा का आयोजन किया गया

दिवगंत पत्रकार बैजनाथ महतो के निधन पर आज प्रेस क्लब परिसर में शोक सभा का आयोजन किया गया। पत्रकारों ने माल्यार्पण एवं पुष्प अर्पित कर बैजनाथ महतो को श्रद्धांजलि दी। श्रद्धांजलि सभा के बाद रांची प्रेस क्लब के अध्यक्ष राजेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में एक बैठक आहूत की गयी।

विषय प्रवेश कराते हुए राजेश कुमार सिंह ने कहा कि अब परिस्थितियां ऐसी बन गयी हैं कि हम सब एकजुट हों, इसलिए सभी अग्रजों, साथियों व अनुजों का मंतव्य प्रेस क्लब आमंत्रित करता है। जिससे कि प्रेस क्लब पत्रकार हित में मजबूती से खड़ा हो सके।
वरिष्ठ पत्रकार बैजनाथ मिश्रा ने पत्रकारों की एकता पर बल दिया और इसे ही मूल अस्त्र-शस्त्र बताया। क्लब में पत्रकार हित मे लिए गए फैसलों पर सर्वसम्मति बनाने के लिए संपादकों-प्रबंधनों के पास जाया जाए ज़रूरत पड़े तो वरीय पत्रकारों की मदद ली जाए। उन्होंने पत्रकारों से आग्रह किया कि साथियों की परनिंदा व अघाने की प्रवृति से हम सभी को बाज आना चाहिए। प्रेस क्लब के निर्णय के साथ पत्रकार साथी मजबूती के साथ खड़े हैं। उन्होंने आग्रह किया कि संस्था के पदाधिकारी अपने आचार-व्यवहार में थोड़ी गंभीरता बरतें।
वरिष्ठ पत्रकार हरि नारायण सिंह ने कहा कि बैजनाथ के साथ जो हुआ वो एक हादसा था लेकिन हादसे के बाद व्यवस्था की लापरवाही ने बैजनाथ की हत्या कर दी। प्रेस क्लब की भूमिका बढ़ी है और पत्रकारिता से जुड़े छोटे-बड़े सभी संस्थानों का सहयोग लिया जाना चाहिए। आर्थिक तौर पर क्लब को स्वावलंबी बनाने के लिए जरूरत पड़े तो समाज का सहयोग लिया जाए। अपनी कमियों का निराकरण क्लब में बैठकर हो। एकता बनी रहे। वरिष्ठ पत्रकार रजत गुप्ता ने बैजनाथ के हत्यारे सिस्टम पर दवाब बनाने की ज़रूरत की बात कही।
वरिष्ठ पत्रकार किसलय जी ने कहा कि पत्रकार सुरक्षा व पत्रकारों की आर्थिक सुरक्षा जरूरी है। इसपर काम हो। युवा पत्रकारों को जोड़ा जाए और उनकी शंका का समाधान हो। वरिष्ठ पत्रकार संजय मिश्रा ने कहा, ये पत्रकार एकता को मजबूती से प्रदर्शित करने का वक़्त है। ब्रजेश रॉय ने कहा पूरे प्रकरण पर माननीय मुख्यमंत्री की चुप्पी अफसोसजनक है, प्रेस क्लब ही पत्रकारों के हक की आवाज़ बुलंद करने का सशक्त माध्यम बने। अनुपम शशांक ने कहा की क्लब का कार्पस फण्ड मजबूत होना चाहिए इसके लिए सभी साथियों को यथासंभव मदद के लिए आगे आना चाहिए। संजय समर ने पत्रकार एकता व साथियों के दिवंगत होने पर परिजनों को आर्थिक सहयोग के लिए एक सिस्टम बनाने कि बात कही।
बैजनाथ महतो पर हुए हमले पर सरकार के खिलाफ भी पत्रकारों में आक्रोश दिखा। नित्यानंद शुक्ला ने सज़ा दिलाने के लिए तय समय सीमा के अंदर चार्जशीट दाखिल करने व फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में जल्द फैसला हो। सुरेंद्र सोरेन ने कहा की प्रेस क्लब के आंदोलन से मेन स्ट्रीम मीडिया की दूरी विचलित करनेवाली है। सभी पत्रकार एकजुटता दिखाते हुए सरकार की अकर्मण्यता की आंखें खोलने के लिए रणनीति के तहत कार्यक्रम बनाएं। पत्रकार राजीव ने प्रेस क्लब को इतना सशक्त बनाने की जरूरत बताई की सरकार के पास झोली फैलाने की बजाय हम अपने पैरों पर मजबूती से खड़े हों।

कार्यक्रम के दौरान रांची प्रेस क्लब के उपाध्यक्ष पिंटू दुबे, महासचिव अखिलेश कुमार सिंह, कार्यकारिणी सदस्य सुशील कुमार सिंह ‘मंटू’ प्रभात कुमार सिंह, अमित दास , सुनील गुप्ता, किसलय शानू समेत बड़ी संख्या में पत्रकार साथी मौजूद रहे। DPRO प्रभात शंकर भी पूरे कार्यक्रम के दौरान मौजूद थे।

THE REAL KHABAR