Saturday, April 13, 2024
spot_img
Homeकोहरामराजनीतिकंपनी के निरंकुश नीतियों के खिलाफ सभी विस्थापित ग्रामों के ग्रामीण एक...

कंपनी के निरंकुश नीतियों के खिलाफ सभी विस्थापित ग्रामों के ग्रामीण एक हो-अंबा प्रसाद

केरेडारी:- केरेडारी प्रखंड क्षेत्र के प्रस्तावित चट्टी बारियातू कोल खनन परियोजना को लेकर विधायक अंबा प्रसाद के नेतृत्व में ग्राम वासियों की सभा हुई| उक्त सभा की अध्यक्षता जागेश्वर साव एवं मंच का संचालन फिर खिरोधर साव द्वारा किया गया उक्त सभा में भारी मात्रा में विस्थापित ग्राम के सैकड़ों महिला-पुरुष मौजूद थे|

सभा को संबोधित करते हुए बड़कागांव विधायक अंबा प्रसाद ने कहा कि एनटीपीसी एवं उनके अधीनस्थ कंपनियों के निरंकुश नीतियों के खिलाफ सभी विस्थापित ग्रामीणों को एकजुट होना होगा तभी इन कंपनियों से विस्थापित ग्राम के लोगों को उचित हक एवं अधिकार मिल पाएगा| उन्होंने कहा कि जिस प्रकार बड़कागांव पकरी बरवाडीह परियोजना के द्वारा स्थानीय लोगों का हक एवं अधिकारों का हनन किया गया उस तरह से चट्टी बारियातू कोल खनन परियोजना से लोगों को कोयला का धूल झेलने नहीं दिया जाएगा| उन्होंने कंपनी के दलालों को चेताते हुए कहा कि कंपनी की दलाली बंद करें, थोड़ी बहुत निजी स्वार्थ के लिए गांव को बर्बाद करने का कार्य मत करें| पकरी बरवाडीह परियोजना मे एनटीपीसी कंपनी द्वारा स्थानीय लोगों को हितों को मारा गया है उसी प्रकार अगर आप सभी कंपनी के नीतियों को नहीं समझेंगे तब तक उचित हक, अधिकार ,मुआवजा तथा रोजगार दिलवाना बहुत कठिन हो जाएगा| यही समय है जब कंपनी को स्थानीय विस्थापितों को रोजगार मुआवजा तथा अन्य सुविधाएं दिलवाने के लिए बाध्य किया जा सकता है|

वहीं उन्होंने कंपनी एवं उनके अधिकारियों को सावधान करते हुए कहा कि बगैर विस्थापित ग्राम के लोगों की सहमति और रोजगार, मुआवजा तथा अन्य सुविधाएं दिलाएं किसी भी तरह का कार्य करने का प्रयास ना करें अन्यथा कंपनी के खिलाफ आक्रमक रवैया देखने को मिलेगा|

The Real Khabar

RELATED ARTICLES

Most Popular