अमेरिका ने कहा- पूर्व अफगान राष्ट्रपति कितना कैश लेकर भागे, जांच करेंगे

अमेरिका ने कहा- पूर्व अफगान राष्ट्रपति कितना कैश लेकर भागे, जांच करेंगे

अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति अशरफ गनी की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। अमेरिका अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति के काबुल से भागते वक्त कैश ले जाने के आरोपों की जांच करने जा रहा है। दरअसल, काबुल स्थित रूसी दूतावास और कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया था कि गनी15 अगस्त को मुल्क से भागते समय हेलिकॉप्टर में कैश भरकर ले गए हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, नगद रकम इतनी ज्यादा थी कि वो जब हेलिकॉप्टर में नहीं आई तो उसे एयरपोर्ट पर ही छोड़ दिया गया।

हालांकि, UAE में रह रहे गनी ने आरोपों को खारिज कर दिया था। उन्होंने कहा था- मैं अपने साथ सिर्फ कपड़े लेकर आया था। गनी के साथ उनके कुछ बेहद करीबी लोगों ने भी काबुल छोड़ दिया था।

अमेरिकी संसद में उठी थी जांच की मांग

अमेरिकी संसद में गनी के कैश लेकर भागने के आरोप की जांच की मांग उठी थी। इस पर सांसद और इंस्पेक्टर जनरल फॉर अफगानिस्तान रीकन्स्ट्रक्शन (SIGAR) के चेयरमैन जॉन सोपको ने कहा था- गनी कैश लेकर भागे हैं, ये अभी साबित नहीं हो सका है। अब यही कमेटी इस मामले की जांच करने जा रही है। गनी के बैंक खातों को खंगाला जाएगा।

फंड के गलत इस्तेमाल की भी जांच

सोपको ने बताया कि अफगानिस्तान में लंबे वक्त तक फंड्स की बर्बादी और गलत इस्तेमाल के आरोपों की भी जांच की जा रही है। अमेरिका की तरफ से 20 साल में जो फंड्स अफगानिस्तान के रीकन्स्ट्रक्शन के लिए दिए गए। ये जानना जरूरी है कि तालिबान के कब्जे से पहले कहीं उनका बेजा इस्तेमाल तो नहीं किया गया।

15 अगस्त को काबुल से भाग गए थे गनी

15 अगस्त को काबुल पर तालिबानी कब्जे के बाद गनी देश छोड़कर भाग गए थे। हालांकि, कुछ दिन बाद वो दुनिया के सामने आए, अपने ऊपर लगे आरोपों को खारिज किया। कहा- मैं कोई कैश लेकर नहीं भागा। वहां जिंदगी पर खतरा था। लिहाजा, मुल्क छोड़ना पड़ा।

THE REAL KHABAR