The Real Khabar

दिखाएं हम,सिर्फ सच्ची ख़बरें

गाइडलाइन्स में कई बदलाओं के साथ ,झारखण्ड में फिर बढ़ी स्वस्थ्य सुरक्षा सप्ताह की अवधि

मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने लातेहार जिले में आईसीयू वार्ड और पाइपलाइन आधारित ऑक्सीजन युक्त बेड का किया ऑनलाइन उद्घाटन

राज्य में स्वास्थ्य से संबंधित आधारभूत संरचनाओं को मजबूत, सुदृढ़ औऱ बेहतर बनाने की दिशा में सरकार लगातार आगे बढ़ रही है. कोरोना महामारी के दौर में लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मिले और इलाज के अभाव में किसी की मौत नहीं हो, यह हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है. मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने आज लातेहार जिले में नवनिर्मित आईसीयू वार्ड और पाइपलाइन आधारित ऑक्सीजन युक्त बेड का ऑनलाइन उद्घाटन करने के दौरान ये बातें कही. उन्होंने कहा कि सभी के सहयोग और बेहतर प्रबंधन के जरिए कोरोना की दूसरी लहर को तेजी से काबू करने में कामयाब हो रहे हैं. जीवन को सामान्य बनाने की दिशा में अब आगे बढ़ रहे हैं, लेकिन इन सबके बीच तीसरे लहर की जो आशंका जताई जा रही है, उससे निपटने की भी तैयारी शुरू कर दी गई है.

चुनौतियों भरा था स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंचाना

मुख्यमंत्री ने कहा कि लातेहार जिले की भौगोलिक संरचना काफी जटिल है. इस जिले में कई दुर्गम इलाके हैं. इसके साथ लगभग 80 प्रतिशत आबादी गांवों में निवास करती है. ऐसे में इस जिले के दूर-दराज और दुर्गम इलाकों में रिकॉर्ड समय में स्वास्थ्य सुविधाओं को उपलब्ध कराना किसी चुनौती से कम नहीं था. लेकिन, स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन ने अभूतपूर्व काम करते हुए यहां रिकॉर्ड समय में स्वास्थ्य सुविधाओं को पहुंचाया है, जिसका फायदा यहां के लोगों को मिलेगा.

खनन कंपनियों का सहयोग सुनिश्चित करें

मुख्यमंत्री ने लातेहार के उपायुक्त से कहा कि जिले में जो कंपनियां खनन के क्षेत्र में कार्यरत हैं, उनका भी कोरोना से निपटने में सहयोग लें. उन्होंने कहा कि खनन व अन्य कंपनियों का सहयोगी और सहभागी बनाना सुनिश्चित करें, उनके सीएसआर फंड का इस्तेमाल स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने में करें.

दूसरी लहर को काबू में लाने में हो रहे सफल

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में कोरोना की दूसरी लहर में संक्रमण को काबू में लाने के लिए सरकार द्वारा किए गए प्रयासों को सफलता मिल रही है. फिलहाल संक्रमण की दर में तेजी से कमी आई है, वहीं स्वस्थ होने की दर तेजी से बढ़ रही है और मृत्यु दर काफी घट गई है. लेकिन खतरा अभी टला नहीं है. कोरोना का कौन सा दौर चल रहा है और इसके कितने दौर आएंगे, यह कहना काफी मुश्किल है. फिलहाल तीसरे लहर की आशंका जताई जा रही है. ऐसे में दूसरी लहर को काबू में करने के बाद तीसरी लहर बेकाबू नहीं हो जाए. हमें सतर्क और सजग रहने की जरूरत है, ताकि संक्रमण का फिर से प्रसार नहीं हो.

राज्य को स्वस्थ और समृद्ध बनाना है

इस मौके पर स्वास्थ्य मंत्री श्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि हर हाल में राज्य को स्वस्थ और समृद्ध बनाना मुख्यमंत्री का विजन है. इस दिशा में उनके मार्गदर्शन में खामियों को दूर किया जा रहा है और सुविधाएं बेहतर और सुलभ की जा रही है. खासकर कोरोना से निपटने की दिशा में मुख्यमंत्री ने जिस सोच के साथ व्यवस्था को व्यवस्थित और कारगर बनाने का काम किया है, वह पूरे देश के लिए मिसाल है. उन्होंने कहा कि जिस तरह से अस्पताल में सुविधाओं को विस्तारित किया जा रहा है, उसी तरह उसका संचालन भी बेहतर तरीके से हो, इसे सुनिश्चित करना है.

इस मौके पर मुख्यमंत्री आवासीय कार्यालय से विकास आय़ुक्त -सह -अपर मुख्य सचिव, स्वास्थ्य विभाग श्री अरुण कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के सचिव श्री विनय कुमार चौबे, सचिव और एनआरएचएम के अभियान निदेशक श्री रविशंकल शुक्ला मौजूद थे.वही, चतरा के सांसद श्री सुनील कुमार सिंह ऑनलाइन तथा विधायक श्री वैद्यनाथ राम और श्री रामचंद्र सिंह एवं उपायुक्त श्री अबू इमरान समेत अन्य पदाधिकारी कार्यक्रम स्थल पर मौजूद थे .