The Real Khabar

दिखाएं हम,सिर्फ सच्ची ख़बरें

नफरत फैलाने के लिए हो रहा Facebook और Instagram का जमकर इस्तेमाल

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स का गलत इस्तेमाल लगातार बढ़ता जा रहा है. भारत समेत दुनिया के कई देशों में हेट स्पीच के लिए इन सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स का इस्तेमाल होता आ रहा है. अब Facebook और Instagram की पेरेंट कंपनी Meta की तरफ से एक रिपोर्ट जारी की गई है, जिसमें बताया गया है कि Facebook पर नफरत फैलाने वाली पोस्ट में लगभग 82 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है. वहीं Instagram पर हिंसक और उकसाने वाली पोस्ट में 86 प्रतिशत का इजाफा हुआ. ये आंकड़े काफी चौंकाने वाले हैं. 

मेटा की तरफ से जारी किए गए आंकड़े

मेटा की तरफ से फेसबुक और इंस्टाग्राम को लेकर जारी हुए ये आंकड़े बताते हैं कि कैसे तेजी से हेट स्पीच सोशल मीडिया पर फैल रही है. नफरत फैलाने के लिए जमकर ऐसे टूल्स का इस्तेमाल किया जा रहा है. रिपोर्ट में शामिल ज्यादातर सामग्री ऐसी हैं, जिनके बारे में यूजर्स की तरफ से बताए जाने से पहले सोशल मीडिया कंपनी ने खुद पता लगाया. मेटा की तरफ से 31 मई को जारी रिपोर्ट के अनुसार फेसबुक ने अप्रैल में 53,200 नफरत फैलाने वाली पोस्ट का पता लगाया, जो मार्च में 38,600 पोस्ट की तुलना में 82 प्रतिशत अधिक है. रिपोर्ट से पता चला कि इंस्टाग्राम ने अप्रैल में 77,000 हिंसक और उकसावे वाली सामग्रियों पर कार्रवाई की. यह आंकड़ा मार्च में 41,300 था. 

फेसबुक पर लगते आए हैं आरोप

फेसबुक पर दुनियाभर के देशों में नफरत को बढ़ावा देने के आरोप लगते आए हैं. साथ ही पक्षपात करने के भी आरोप पिछले दिनों इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर लगे हैं. अमेरिका जैसे देशों में कंपनी के सीईओ को जवाब तक देना पड़ा था. फेसबुक पर आरोप लगते हैं कि वो एक खास वर्ग के नफरती पोस्ट्स के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करता है, क्योंकि इसमें उसके व्यावसायिक हित होते हैं. हालांकि फेसबुक की तरफ से हमेशा से ही ऐसे आरोपों का खंडन किया गया है. 

The Real Khabar

You cannot copy content of this page.

Contact on 7004640508