Saturday, April 13, 2024
spot_img
Homeझारखंडराँचीशहीदों की चिताओं पर लगेंगे हर बरस मेले वतन पर मर मिटने...

शहीदों की चिताओं पर लगेंगे हर बरस मेले वतन पर मर मिटने वालों का बाकी यही निशा होगा

प्रथम भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के महान स्वतंत्रता सेनानी अमर शहीद शेख भिखारी एवं टिकैत उमरांव सिंह का शहादत दिवस आज दिनांक 8/1/2024 को हटिया स्थित शहादत स्मारक स्तंभ के बड़कागढ के मानिंद जनों और हटिया के प्रबुद्ध जनों द्वारा अमर शहीदों के तैल चित्रों पर श्रद्धांजलि पुष्प अर्पण की गई।

काफी संख्या में लोगों की भागीदारी रही ।कार्यक्रम दिन के 10:00 बजे प्रारंभ अध्ययन केंद्र के सदस्य और अमर शहीद ठाकुर विश्वनाथ शाहदेव के प्रत्यक्ष उत्तराधिकारी ठाकुर बड़कागढ़ स्टेट ठाकुर सुधांशु नाथ शाहदेव के द्वारा श्रद्धांजलि अर्पण की गई । श्रद्धांजलि सभा का संचालन सुमन माली और परवेज खलीफा के द्वारा संपन्न की गई ।

श्रद्धांजलि सभा की अध्यक्षता ठाकुर सुधांशु नाथ शाहदेव ने किया । सचिव ठाकुर सुधांशु नाथ शाहदेव ने अमर सेनानी का इतिहास को संक्षिप्त रूप में सभा के बीच रखी।श्री राजकिशोर गुप्ता ने मांग रखा कि रांची शहर के गोलम्बरों , सड़कों, भवनों , विद्यालयों ,महाविद्यालयों , सरकारी- अर्द्ध सरकारी भवनों का नाम अमर सेनानियों के नाम पर हो । हटिया चौक से बिरसा चौक सड़क का नाम अमर शहीद ठाकुर विश्वनाथ शाहदेव के नाम पर हो व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम धुर्वा का नाम अमर सेनानी ठाकुर विश्वनाथ शाहदेव के नाम पर हो ।झारखंड सेनानी कोष संचालन समिति में नियमावली के तहत अमर सेनानी के प्रत्यक्ष उत्तराधिकारी को रखी जाए और यथाशीघ्र मुख्यमंत्री महोदय सेनानी कोष की बैठक सभी अमर सेनानियों के वंशजों की आम बैठक आहूत की जाए । सभी सेनानियों के वंशजों को निशुल्क स्वास्थ्य कार्ड दिया जाए । अमर सेनानियों के ग्रामों को आदर्श ग्राम की दर्जा देते हुए ग्राम की आवश्यकताओं से संपन्न की जाएं । वही वरिष्ठ सदस्य श्री नागेन्द्र तिवारी ने अमर सेनानियों के ग्रामों में स्थित ऐतिहासिक आवासों की मरम्मत यथाशीघ्र हो। सभी सेनानियों के बेरोजगारों को सरकार योग्यता अनुसार नौकरी दे । स्मार्ट सिटी का जो निर्माण एचईसी के प्रांगण में हो रहा है उसमें अमर सेनानियों के वंशजों को आवास आवंटित की जाए । एचइसी में डीजल इंजन प्लांट , हवाई अड्डा रांची, इनसलेरी, छोटे बड़े संस्थानों में नौकरी रोजगार दी जाए ।सेनानीयों को जाति में विभक्त कर राजनीति स्वार्थ हित का कार्य बंद की जाए , शहीद का कोई जाति नहीं होता है , वह सब जाति संप्रदाय का है। अमर सेनानियों को सम्मान दिया जाए। स्मार्ट सिटी का नाम अमर शहीदों के नाम पर हो। कांके डैम का नाम नामकरण अमर सेनानी टिकैत उमराव सिंह के नाम पर रखी जाए। गेतलसुत डैम का नाम अमर शहीद शेख भिखारी के नाम पर रखी जाए । नया विधानसभा के मुख्य द्वार पर अमर शहीद ठाकुर विश्वनाथ शाहदेव की प्रतिमा लगाई जाए और इन्हें सम्मान दी जाए।रांची महाविद्यालय का नाम अमर शहीद पांडे गणपत राय के नाम से हो । मोरहाबदी मैदान का नाम अमर शहीद ठाकुर विश्वनाथ शाहदेव मैदान रखी जाए ।

उपरोक्त मांगों को उपस्थित जनों के द्वारा अनुमोदित अपनी स्वीकृति देकर की गई । सभा का स्वागत श्री सुमन माली ने किया। सभा का विसर्जन की घोषणा परवेज खलीफा ने किया ।श्रद्धांजलि सभा में उपस्थित गणमान्य श्री राजकिशोर गुप्ता , श्री सुधीर सिंह, मंजीत सिंह, परवेज खलीफा , विवेकानंद कुमार, मालती देवी ,सुचिता मिंज, रजनी मुर्मू , दिवाकर गंझू, आनंद सिंह , रहुफअली , चंदन मिश्रा , गुप्तेश्वर प्रसाद सिंह , ठाकुर सुधांशु नाथ शाहदेव , कैलाश नायक, मंजूलता डांग , ज्ञान प्रकाश दुबे, चंद्रकांत महली, दिनेेश्वर तिवारी आदि उपस्थित हुए।

The Real Khabar

RELATED ARTICLES

Most Popular