The Real Khabar

दिखाएं हम,सिर्फ सच्ची ख़बरें

मोराबादी में जुटे जेपीएससी अभियार्थी, कल जेपीएससी मुख्यालय का किया जायेगा घेराव

मोराबादी में जुटे जेपीएससी अभियार्थी, कल जेपीएससी मुख्यालय का किया जायेगा घेराव

जेपीएससी पीटी परीक्षा रद्द करके उम्र सीमा में छूट देते हुए सीट बढ़ाते हुए अंतर जिला परीक्षा सेंटर बनाकर पारदर्शिता से चयन प्रक्रिया करने की मांग को लेकर मोराबादी स्थित बापू वाटिका के समक्ष एक दिवसीय शांतिपूर्ण धरना प्रदर्शन किया गया जिसमें 24 जिलों के हजारों छात्र शामिल हुए।

धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए छात्र नेता देवेन्द्र नाथ महतो, मनोज यादव, सफी इमाम, कहकशा कमाल, प्रवीण कुमार चौधरी, कुणाल कुमार, दीपक कुमार, परवेज आलम, पवन कुमार, गुलाम हुसैन, विनय सर, कुणाल प्रताप सिंह सर, अरुण अग्रवाल सर, संजय कुमार मेहता, ने धरना को संबोधित करते हुए कहा कि 7- 10th जेपीएससी रद्द किया जाय और उम्र सीमा में छूट देते हुए सीट बढ़कर पुनः अंतर जिला परीक्षा सेंटर बनाकर पुनः परीक्षा लिया जाय।

7-10th जेपीएससी पीटी परीक्षाफल में बहुत गड़बड़ी किया गया है, परीक्षाफल उम्मीद से विपरीत है। साहेबगंज, लातेहार, लोहरदगा और हजारीबाग जिला के एक ही सेंटर से बेंचवार क्रमवार बैठे अभ्यर्थियों को पास कर दिया गया है,जेपीएससी द्वारा आउट ऑफ सिलेबस डिप्ली सवाल पूछा गया था, बहुत त्रुटिपूर्ण सवाल था, करेंट अफेयर्स का सवाल दो साल पूर्व वाला पूछा गया था उसके बावजूद अब तक का जेपीएससी का सबसे हाई कट ऑफ गया।

7-10th जेपीएससी पीटी परीक्षाफल में दिव्यांगों के लिए प्रावधान 5% प्रतिशत आरक्षण का पालन नहीं किया गया है, इसके अलावा महिला आरक्षण, सैनिक आरक्षण का भी पालन नहीं किया गया है,

साथ ही उन्होंने कहा कि विज्ञापन के अनुसार 15 गुना पीटी परीक्षाफल का नियमावली का भी पालन नहीं किया गया है।

सभी आंदोलनकारी छात्रों ने आरोप लगाया है कि कम नंबर लाने वाले कुछ छात्रों को भी पास कर दिया गया है इसीलिए आयोग कट ऑफ भी जारी नहीं कर रहा है अगर जेपीएससी सच है तो पास अभ्यर्थियों का कट ऑफ जारी करे और हजारों गड़बड़ी सामने आयेगी।

छात्र नेता देवेंद्र नाथ महतो ने साथ ही यह भी बताया कि 7-10th जेपीएससी रद्द करके अंतर जिला परीक्षा सेंटर बनाकर पारदर्शिता परीक्षा की मांग को कल 16 नवम्बर को जेपीएससी मुख्यालय का शांतिपूर्ण तरीके से घेराव किया जायेगा जिसमें 24 जिला के छात्र शामिल होंगे।

THE REAL KHABAR