अफगानिस्तान की महिला बॉक्सर को छोड़ना पड़ा देश,तालिबान से मिल रही थी जान से मारने की धमकी

अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद दर्द भरी कई कहानियां सामने आ रही हैं। अब अफगानिस्तान की महिला बॉक्सर सीमा रेजाई का मामला सामने आया है, जिन्हें अपना पैशन फॉलो करने के लिए देश छोड़ना पड़ा। वे अफगानिस्तान में लाइटवेट बॉक्सिंग चैंपियन रह चुकी हैं।

तालिबान ने उन्हें अफगानिस्तान छोड़ने या मरने के लिए तैयार रहने की धमकी दी थी। स्पुतनिक को दिए इंटरव्यू में सीमा ने बताया कि तालिबान की धमकी मिलने के बाद परिवार ने भी उनका सपोर्ट करना छोड़ दिया था। सभी डरे हुए थे, इसलिए उन्होंने देश छोड़ने का फैसला किया।

तालिबान ने जब काबुल पर कब्जा किया, तब सीमा कोच के साथ बॉक्सिंग की ट्रेनिंग कर रही थीं। महिला खिलाड़ी को पुरुष कोच ट्रेनिंग दे रहे थे, इसलिए तालिबान ने उनके घर धमकी भरे खत भेजने शुरू कर दिए। खत में उन्होंने लिखा कि अफगानिस्तान में रहना है तो बॉक्सिंग छोड़नी होगी या मरना होगा।

सीमा ने बताया कि वे फ्लाइट में सवार होकर कतर चली गईं। अब इंतजार कर रही हैं कि अमेरिका उन्हें वीजा देकर अपने यहां बुला ले। वे 16 साल की उम्र से बॉक्सिंग कर रही हैं।

THE REAL KHABAR